'बंटे हुए भारतवंशी समुदाय को एकजुट करने वाली बड़ी शक्ति बन गये हैं मोदी'

'बंटे हुए भारतवंशी समुदाय को एकजुट करने वाली बड़ी शक्ति बन गये हैं मोदी'
नई दिल्ली. भाजपा के प्रवासी मामलों के विभाग के प्रमुख विजय चौथाईवाले (Vijay Chauthaiwale) ने बुधवार को कहा कि विदेशों में बसा भारतीय समुदाय बहुत बंटा हुआ है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) उनके लिए बड़ी एकीकरण शक्ति बन गये हैं. उन्होंने कहा कि ‘हाउडी मोदी’ (Howdy Modi) जैसे कार्यक्रम विदेशों में रहने वाले भारतीयों के स्तर को बढ़ाते हैं.

पब्लिक पॉलिसी रिसर्च सेंटर द्वारा आयोजित ‘हाउडी, मोदी. अनरैपिंग द रैप्ड एंड लेवरेजिंग द गेन्स’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए चौथाईवाले ने कहा कि लंदन (London) जैसे शहर में 1100 से ज्यादा भारतीय संगठन हैं. टेक्सास (Texas) में ऐसे 500 से ज्यादा संगठन हैं लेकिन पीएम मोदी की अपील की वजह से ऐसे समारोहों में सारे संगठन साथ में आ जाते हैं.

मोदी एकजुट करने वाली बड़ी शक्ति
विदेशों में बसे भारतवंशियों के बड़े सम्मेलनों में पीएम मोदी के संबोधन के आयोजन में चौथाईवाले की बड़ी भूमिका रही है. उन्होंने कहा कि भारतीय समुदाय के लोग इन सभाओं में सक्रियता से शामिल होते हैं, क्योंकि उन्हें बताया जाता है कि इन कार्यक्रमों के पीछे उनका सहयोग है, नाकि सरकार या भाजपा का.चौथाईवाले ने कहा कि इन समारोहों के लिए ना तो सरकार पैसा देती है ना ही भाजपा. स्थानीय स्तर पर लोग इसके लिए चंदा एकत्रित करते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय समुदाय अत्यंत विभाजित है और वे बमुश्किल ही साथ में आते हैं. उन्होंने मोदी की अपील पर ऐसा किया है. मोदी एकजुट करने वाली बड़ी शक्ति बन गये हैं.’’

पीएम ने नहीं किया किसी का समर्थन
चौथाईवाले ने इस तरह की आलोचनाओं को खारिज कर दिया कि मोदी ने हाउडी मोदी कार्यक्रम में ‘अबकी बार, ट्रंप सरकार’ बोलकर अगले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए ट्रंप का परोक्ष समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने रिपब्लिकन हिंदू कॉलिशन की एक रैली में ट्रंप द्वारा इस नारे का इस्तेमाल किये जाने का ही जिक्र किया था. वह किसी उम्मीदवार का समर्थन नहीं कर रहे थे.
पब्लिक पॉलिसी रिसर्च सेंटर के निदेशक विनय सहस्रबुद्धे ने कहा कि दुनिया के नेताओं के साथ मोदी ने जो अनौपचारिक तालमेल बनाया है उसके आने वाले समय में अच्छे परिणाम मिलेंगे.

ये भी पढ़ें-
मामल्लापुरम में 1000 साल पुरानी स्मारकों का दीदार करेंगे PM मोदी और जिनपिंग

Book Review: 'भारत कैसे हुआ मोदीमय' में दिखती है भविष्य के भारत की स्पष्ट झलक

(Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from News 18.)