शरीर के साथ दिमाग की सेहत बनाए रखने के लिए कारगर हैं स्लो स्टैण्डिंग, टेंडम वॉक जैसी एक्सरसाइज

शरीर के साथ दिमाग की सेहत बनाए रखने के लिए कारगर हैं स्लो स्टैण्डिंग, टेंडम वॉक जैसी एक्सरसाइज





हेल्थ डेस्क. शरीर व मस्तिष्क के बीच तालमेल और संतुलन बनाए रखना बेहद जरूरी है। शारीरिक रूप से आप सक्रिय रहेंगे, तो दिमाग भी ठीक से काम करता रहेगा। वहीं अगर आप दिमाग को क्रियाशील बनाए रखेंगे तो आपका शारीरिक संतुलन भी बेहतर रहेगा। ये दोनों चीजें एक-दूसरे के समानुपाती हैं। इसलिए जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए अपने शरीर और दिमाग दोनों से काम लेते रहना चाहिए। नियमित व्यायाम से शरीर और दिमाग स्वस्थ बना रहता है। साथ ही संतुलन में भी सुधारहोता है। शरीर का संतुलन बनाए रखने के लिए आज हम आपको 4 खास व्यायाम बता रहे हैं :

  1. मार्च

    दोनों हाथों से कोई सपोर्ट लें। फिर धीरे-धीरे एक पैर को तब तक ऊपर उठाएं, जब तक कि घुटना कमर तक नहीं आ जाए। कुछ सेकंड्स के लिए वहीं रुकें। फिर सामान्य स्थिति में आ जाएं। अब इसे दूसरे पैर के साथ दोहराएं। कुछ दिन यही करें। फिर धीरे-धीरे सपोर्ट कम कर एक हाथ की मदद से ऐसा करें। कुछ दिन बाद इसे बिना सपोर्ट के करें। अब इसकी गति को बढ़ाएं और धीमे स्टेटिक मार्च की तरह इसे करें।
    क्या फायदा ? : यह व्यायाम शरीर की प्रमुख (कोर) मांसपेशियों के लिए बेहद फायदेमंद है और दिल की बीमारी की आशंका को कम करता है।

  2. स्क्वैट्स

    इसके लिए सीधे खड़े हो जाएं औऱ् अपने पैरों को कंधों की चौड़ाई तक फैलाएं। घुटनों को मोड़ें और धीरे-धीरे बैठने की मुद्रा में आ जाएं, (बैठे नहीं) जब तक कि आपकी जांघें फर्श के समानांतर न हो जाएं। पांच सेकण्ड के लिए रुकें और खड़े हो जाएं। रोजाना 10 स्क्वैट्स के तीन सेट करें और हर सेट के बीच में दो मिनट का अंतर रखें। समय के साथ धीरे-धीरे स्क्वैट्स की संख्या बढ़ा सकते हैं।
    क्या फायदा ? : इस व्यायाम से पैरों की मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। साथ ही शरीर का संतुलन भी बेहतर होता है।

  3. स्टैंड ऑन वन लैग

    दोनों हाथों से साइड में सपोर्ट लें, जैसे कि आप किसी कुर्सी या खिड़की को पकड़ सकते हैं। एक पैर को उठाकर करीब 30 सेकंड के लिए रुकें। अब सामान्य अवस्था में आ जाएं और दूसरे पैर के साथ इस प्रक्रिया को दोहराएं। कुछ दिन यही करें। फिर धीरे-धीरे सपोर्ट कम करें। एक हाथ से सपोर्ट लें, एक पैर पर खड़े हों, फिर धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में आ जाएं। धीरे-धीरे सपोर्ट को पूरी तरह से हटा दें।
    क्या फायदा ? : इससे शरीर के निचले हिस्से की क्षमता बढ़ती है। छोटी मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। इससे शरीर का संतुलन बेहतर होता है।

  4. टेंडम वॉक

    शरीर का संतुलन बनाने के लिए इससे अच्छा व्यायाम दूसरा नहीं हो सकता। टेंडम वॉक ऐसा व्यायाम है, जिसमें पिछले पैर की अंगुलियां अगले पैर की एड़ी को छूती हैं। एक पैर को दूसरे पैर के आगे रखते हुए एक-एक कदम बढ़ाते हुए चलें, जैसे मॉडल रैम्प वॉक करते हैं। यह एक्सरसाइज थोड़ी बड़ी जगह करें, ताकि वहां कम से कम सीधे 10 से 15 कदम चल सकें।
    क्या फायदा? : इससे पूरे धड़ और मांसपेशियों का आपस में तालमेल बढ़ता है। इसे हमारे एक्सरसाइज रुटीन का हिस्सा बनाना चाहिए।









    1. Slow standing, tandem walk-like exercises are effective for maintaining the health of the mind with the body






      (Disclaimer: This article is not written By 24Trends, Above article copied from Bhaskar.)